देवरिया में आयुर्वेद अस्पतालों का होगा कायाकल्प

जिले में चार आयुर्वेद अस्पतालों का कायाकल्प होगा। इसके लिए शासन को भेजा गया प्रस्ताव मंजूर हो गया है। शीघ्र ही इन भवनों का निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा। इन अस्पतालों में डाक्टर व कर्मचारी जान जोखिम में डाल कर ड्यूटी करते थे।

जिन अस्पतालों के भवन का निर्माण होना है उनमें आयुर्वेद चिकित्सालय सदर प्रधान, मुजहना लाला, पैकौली व गड़ेर का नाम शामिल है। इन अस्पतालों का भवन जर्जर व जीर्ण-शीर्ण है। छत का प्लास्टर टूट रहा है। भय से डाक्टर व कर्मचारी बाहर टेबल लगा कर मरीज देखते हैं। एक अस्पताल के भवन निर्माण पर 15 लाख रुपये खर्च होंगे। कुल 60 लाख रुपये खर्च कर चारो अस्पतालों का कायाकल्प किया जाएगा

14 अस्पतालों के पास नहीं है अपना भवन

जिले में 14 ऐसे आयुर्वेद चिकित्सालय हैं जिनके पास अपना भवन नहीं है वह या तो किराए के भवन में चलते हैं नहीं तो ग्राम पंचायत भवन में चलते हैं। यहां भी भवन निर्माण के लिए ग्राम पंचायतों में जमीन तलाश की जा रही है। ऐसे भवनों के लिए जमीन का प्रस्ताव ग्राम प्रधानों से मांगा गया है।

जिला आयुर्वेद अधिकारी डा. डीके चौरसिया ने कहा कि चार आयुर्वेद अस्पतालों के भवन निर्माण के लिए 60 लाख रुपये स्वीकृत हुआ है। बहुत जल्द निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

=>
LIVE TV