Monday , April 24 2017

जेल हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ

जेल पर हमलानाभा। पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने पटियाला की नाभा जेल पर हमला कर 6 कैदियों को भगाने में पाकिस्तान का हाथ होने की बात कही है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के बाद आतंकवाद को बढ़ावा देने के मकसद से पाकिस्तान ने यह हमला कराया है। बादल ने कहा कि आईएसआई ने आतंकवादियों के साथ मिलकर इस हमले की साजिश रची है।

बीते रविवार सुबह 10 बजे पुलिस की वर्दी में आए हथियारबंद अपराधियों ने जेल पर हमला बोल दिया था। इस हमले के बाद फरार कैदियों में खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का आतंकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू भी शामिल है। इस बीच पंजाब सरकार ने जेल से फरार हुए कैदियों की सूचना देने वाले व्यक्ति को 25 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। पूरे मामले की जांच के लिए पंजाब पुलिस ने एसआईटी का गठन किया है। राज्य सरकार ने डीजी (जेल) समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। फरार अपराधियों को पकड़ने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स भी बनाई गई है।

उधर, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जेल हमले पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। सुखबीर बादल ने कहा कि ADGP के नेतृत्व में घटना की जांच के लिए एक टीम बनाई गई है और जो भी इसके लिए जिम्मेदार होगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। जेल हमले की घटना के बाद पूरे पंजाब में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। संदिग्ध वाहनों की कड़ी जांच की जा रही है।

मालूम हो कि फरार आतंकी हरमिंदर को आईजीआई एयरपोर्ट से 2014 में पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। मिंटू 2008 में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम, और हलवाड़ा एयरफोर्स स्टेशन पर हमले समेत कई आतंकी घटनाओं में शामिल रहा है। पंजाब पुलिस के अनुसार हरमिंदर 2010 में यूरोप में भी जा चुका है। 2013 में उसने पाकिस्तान छोड़ा था। यूरोप दौरे में उसने इटली, बेल्जियम, जर्मनी और फ्रांस की यात्रा की थी। खालिस्तान लिबरेशन फोर्स फंड जुटाने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करने में आगे रहा है।

LIVE TV