छींद मंदिर पर उमड़ेगा भक्तों का सैलाब

Hanuman-Jayanti-Pic-t2एजेंसी/ बजरंग बली की जयंती पर छींद मंदिर में दर्शन करना बहुत ही बड़ा पुण्य माना जाता है हनुमान जी का ये मंदिर दर्शन शास्त्र के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण है। और आज के इस पावन पर्व पर हनुमान जी के इस मंदिर में भक्तों की काफी भीड़ उमड़ेगी। यहां बड़ी संख्या में भक्त दर्शन करने पहुचेंगे। हर साल जयंती पर यहां विशेष पूजन का आयोजन होता है।

पुलिस व्यवस्था
हनुमान जयंती से एक दिन पहले गुरुवार को अनुविभागीय अधिकारी ओपी सोनी तहसीलदार पीसी पाण्डेय एवं पुलिस अधिकारियों ने छींद पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही सभी कर्मचारियों को व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। पुलिस प्रशासन द्वारा बेरिकेड्स लगाकर भीड़ को काबू करने एवं व्यवस्थाएं बनाने का प्लान तैयार किया गया है। प्रशासन का अनुमान है कि यहां लगभग 50 हजार से अधिक संख्या में श्रद्धालु आएंगे। इसे देखते हुए छींद के बाहर खेत में पार्किंग की व्यवस्थाएं की गई है।

पर्व पर होगी विशेष पूजा
हनुमान जयंती के इस पावन पर्व पर काफी विशेष धार्मिक अनुष्ठान और पूजा की जाएंगी। श्रद्धालुओं द्वारा बजरंग बली के दर्शन पर भंडारे, धार्मिक अनुष्ठान, रामायण एवं सुंदर काण्ड का पाठ भी किया जाएगा। साथ ही भजन-कीर्तन का आयोजन भी होगा। परिसर के बाहर स्थानीय दुकानदारों द्वारा मेला लगाया जाता है। इसमें आने वाले लोग अपनी जरूरत का सामान खरीदते है, छींद में वैसे तो मंगलवार और शनिवार को मेले जैसा माहौल रहता ही है लेकिन हनुमान जयंती, दशहरा, रामनवमी, नववर्ष के धार्मिक अवसरों पर यहां आने वाले भक्तों की संख्या बहुत ज्यादा होती है।

जयंती के लिए बनाई गई योजना
हनुमान जयंती पर छींद मंदिर जाने के लिए पहले से ही योजनाएं तैयार कि जाने लगी थी ताकि किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो। इस अवसर पर छींद मंदिर जाने के लिए जयपुर-जबलपुर हाईवे से जुड़े तीन मार्गो पर विशेष ट्रैफिक व्यवस्था बनाई गई है। सभी मार्गो पर बेरीकेड्स लगाए गए हैं। एक मार्ग बरेली में किनगी रोड से होकर छींद पहुंचता है। रात से ही यहां पुलिसकर्मी यातायात व्यवस्था को बनाने में जुटे हैं ।

दूसरा नेशनल हाइवे पर ही शिवा गार्डन के सामने केरोसिन टैंक के बाजू से छींद पहुंचता है। इसी तरह तीसरा मार्ग पिपरिया करन सिंह ग्राम के जोड़ के समीप से छींद तक जाता है। तीनों मार्गो की दूरियां लगभग बराबर है। इनमें से बरेली से होकर जाने वाले मार्ग पर यातायात का दबाव सबसे ज्यादा रहता है।

सुरक्षा को रखा ध्यान में रखा
परिसर में भक्तों की भीड़ का जो सैलाब उमड़ेगा उसकी पूरी व्यवस्था और पूरी सुरक्षा के लिए थाना प्रभारी एसएस मुकाती ने बताया कि तीनों मार्गो पर बेरीकेड्स लगाकर यातायात व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जाएगा इस दौरान थाने के पुलिसकर्मी, मरक्षा समिति के सदस्य, ग्राम चौकीदार सहित कई सामाजिक संस्थाओं के लोग मौजूद रहेंगे। इनमें आकस्मिक घटना दुर्घटना से निपटने के लिए जरुरी इंतजाम उपलब्ध किए जाएंगे। इसके साथ ही पुलिस की 100 डायल गाड़ी भी मौजूद रहेगी। सुरक्षा की दृष्टि से यहां छींद मंदिर में स्वास्थ्य विभाग की एम्बुलेंस और नगर परिषद की दमकल मौजूद रहेगी।

=>
LIVE TV