Saturday , August 19 2017

सामने आईं कानपुर रेल हादसे की सात ‘गलतियां’

कानपुर रेल हादसे का सचकानपुर। इंदौर-पटना एक्सप्रेस के भीषण हादसे से संबंधित एक चौंका देने वाली बात सामने आयी है। एक निजी चैनल के हाथ लगी रेलवे की गोपनीय रिपोर्ट ने कानपुर रेल हादसे का सच खोल कर रख दिया है। बताया जा रहा है कि इस हादसे में यदि सावधानी से काम लिया जाता और दिए गए निर्देशों का पालन किया जाता तो आज देश को ये मातम का मंजर न देखना पड़ता।

कानपुर रेल हादसे का सच

ख़बरों के मुताबिक़ जिस रेलवे ट्रैक पर यह गंभीर हादसा हुआ उस पर रेलवे ने 30 किलोमीटर का कॉशन लगा रखा था।

इतना ही नहीं ट्रैक के जर्जर अवस्था में होने की जानकारी भी रेलवे की और से पहले दी जा चुकी थी। रिपोर्ट में बताया गया था कि ट्रैक सात जगहों पर टूटा हुआ है। इसलिए इस हिस्से में सावधानी बरतने की बहुत आवश्यकता है।

इस बात का खुलासा होने पर सवाल यह उठता है कि जब रेलवे द्वारा यह सूचना दे दी गयी थी। तो आखिर किसके निर्देशों पर ट्रेन को 100 किमी की रफ़्तार दी गयी?

यदि वाकई सूचना रेलवे को थी तो आखिर इस घटना के होने का इन्तजार क्यों किया गया? क्यों नहीं वक्त रहते ट्रैक को दुरुस्त किया गया।

=>
=>
LIVE TV