अगस्टा वेस्टलैंड के बिचौलियेे ने कहा-गांधी परिवार को नहीं जानता

नई दिल्ली। अगस्टा वेस्टलैंड डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने कहा है‍ कि वह गांधी परिवार को नहीं जानता। गांधी परिवार के किसी सदस्य से उसकी मुलाकात नहीं हुई है।

अगस्टा वेस्टलैंड डील

अगस्टा वेस्टलैंड डील में नया मोड़

न्यूज चैनल आजतक से बातचीत में क्रिश्चियन मिशेल ने कहा, ‘मेरा काम मीडिया की निगरानी करना था न कि पत्रकारों को पैसे देना। मैं इस मामले में सरकारी गवाह नहीं बनूंगा।’

मिशेल ने यह भी दावा किया कि वो अगस्टा वेस्टलैंड डील के बिचौलिए माइकल हैश्के को कानूनी नोटिस भेज चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘ मैं इस डील के सबूत भारतीय दूतावास को सौंप दूंगा। भारतीय अदालत के जरिए कानूनी लड़ाई के लिए भी तैयार हूं।’ मिशेल जल्द ही भारतीय वकील की सेवा लेने पर विचार कर रहे हैं।

वहीं, अगस्टा वेस्टलैंड डील के दूसरे बिचौलिए माइकल हैश्के भी इस मामले में अपना बयान देना चाहते हैं। हैश्के के वकील रोसमैरी पैट्रिजी डोस अनजोस ने कहा हैै कि उनके क्लाइंट भारत लौटने को तैयार है। लेकिन हमारी शर्त है कि हैश्के को गिरफ्तार न किया जाए।

अगस्टा डील में इन दिनों भारत में पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी से पूछताछ चल रही है। सीबीआई उनसे लगातार पूछताछ कर रही है। पांच मई को प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉंन्ड्रिंग मामले में उनसे पूछताछ करेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एसपी त्यागी ने सीबीआई को बताया है कि इस डील में उन पर ऊपरी दबाव था। डील में त्यागी के कुछ रिश्तेदारों को नाम भी सामने आ रहे है।  जांच एजेंसियां एसपी त्यागी के रिश्तेदारों से भी पूछताछ करेंगी।

यह मामला इटली की अगस्टा वेस्टलैंड कंपनी की उस 3600 करोड़ की डील से जुड़ा है,‍ जिसमें भारत को वीवीआईपी हेलीकाॅप्टर मिलने थे। लेकिन घोटाले की बू आने के बाद इस डील को कैंसर कर दिया गया।

यह घटनाक्रम कांग्रेस नीत यूपीए की सरकार में सामने आया था। साल 2013 में इस मामले में इटली की कोर्ट में सुनवाई के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का नाम सामने आया था।

=>
LIVE TV