अगर कैश डिपॉजिट मशीन में फंस जाएं पैसे, तो करें ये !…

एक होती है कैश डिपॉजिट मशीन. इसमें कैश डालकर आप अपने अकाउंट में पैसे डाल सकते हैं. हर बैंक की अपनी कैश डिपॉजिट मशीन होती है. ये एटीएम मशीन की तरह ही दिखती है. आपको इसमें कैश डालने के बाद, वो अकाउंट नंबर डालना होता है, जिसमें आप पैसे जमा करवाना चाहते हैं.

अब कई बार ये होता है कि पैसे फंस जाते हैं. बहुत से लोगों के साथ ऐसा हो चुका है. मेरी एक दोस्त पिंकी (नाम बदल दिया गया है), उसके साथ भी ऐसा हुआ था. वो अपनी मम्मी के अकाउंट में पैसे डालने गई. कैश डिपॉजिट मशीन के जरिए.

लेकिन जैसे ही उसने पैसे मशीन में डाले, मशीन बंद हो गई. उसके पैसे फंस गए. वो काफी घबरा गई. हर कोई घबरा सकता है, ये नॉर्मल है. लेकिन अच्छी बात ये थी कि कुछ दिन बाद ही फंसे हुए पैसे, पिंकी की मम्मी के बैंक खाते में चले गए. कैसे? इसकी एक छोटी सी प्रोसेस होती है. क्या होती है वो प्रोसेस हम आपको बताएंगे-

 

– अगर आपके पैसे कैश डिपॉजिट मशीन में फंस जाएं, तो सबसे पहले आप उस मशीन का नंबर नोट करें. टाइम नोट करें, कि कब ऐसा हुआ. अगर कोई रसीद वगैरह उस मशीन से निकलती है, तो उसे अपने पास रख लें. रसीद की फोटोकॉपी जरूर करा लें, उसकी इंक मिट जाती है. फिर उस बैंक में जाएं, जिससे वो मशीन कनेक्टेड है.

प्रियंका ने भाषण की शुरुआत की पंजाबी से फिर कहा- “हो गया शोऑफ अब हिंदी बोलूंगी !”

– वहां जाकर आप शिकायत करें. सारी जरूरी जानकारी दें. कब हुआ, कहां तक प्रोसेस पहुंची थी, वगैरह-वगैरह. एक एप्लीकेशन आपको जमा करनी होगी. उसमें सारी बात लिखनी होगी. साथ ही उस अकाउंट का नंबर, ब्रांच का नाम और अकाउंट होल्डर का नाम भी लिखना होगा, जिसे आप पैसे भेज रहे थे. जैसे पिंकी ने अपनी मम्मी के बैंक अकाउंट की जानकारी लिखी थी. फोन नंबर वगैरह भी देना होगा.

– उसके बाद कुछ दिन का इंतजार करना होगा. तब तक बैंक उस कैश डिपॉजिट मशीन की जानकारी लेंगे. उसके स्टेटमेंट निकलवाएंगे. साथ ही कुछ मामलों में सीसीटीवी कैमरे की भी जांच होती है. वो भी की जाएगी. ये सारी बातें हमें सिंडिकेट बैंक के एक कर्मचारी ने बताई है.

– सारे रिकॉर्ड चेक करने में एक से दो दिन का वक्त लगता है. लेकिन अगर बीच में कोई छुट्टी पड़ जाए, तो ज्यादा वक्त भी लग सकता है. उसके बाद उस अकाउंट में पैसे जाएंगे, जिसकी जानकारी आपने दी थी. या जिस अकाउंट में आप पैसे जमा करवा रहे थे. कई बारी पैसे उसी दिन अकाउंट में चले जाते हैं, जिस दिन आप शिकायत करते हैं.

पिंकी की मम्मी के खाते में पैसे पहुंचने में 3 दिन का वक्त लगा था. ये समय कम या ज्यादा हो सकता है. तो अगर आपके साथ कभी ऐसा हो, तो बिल्कुल घबराना मत. आराम से काम लेना, और बैंक में जाकर शिकायत करना. आपके पैसे आपके ही हैं, कहीं नहीं जाएंगे.

 

=>
LIVE TV