Sunday , August 20 2017

2000 के नोट का छुट्टा न मिलने पर मजदूर ने खाया जहर

2000 की नोट ने किया मजबूरहैदराबाद| आंध्र प्रदेश में एक मजदूर को आत्महत्या करने पर 2000 की नोट ने किया मजबूर । छुट्टा न मिल पाने के चलते उसने आत्महत्या की कोशिश की। घटना कुरनूल जिले के नन्दिकोत्कुर की है।

2000 की नोट ने किया मजबूर

मुर्तजा वली ने 2000 रुपये के नोट का छुट्टा न मिलने के चलते अपने घर में जहर खा लिया। नोट का छुट्टा न मिल पाने से वह पिछले चार दिनों से आवश्यक सामाना नहीं खरीद पाया था।

परिवार के मुताबिक, मालिक ने मुर्तजा को 2000 रुपये दिए और वह इसे लेकर दुकान पर गया, लेकिन उसे छुट्टा नहीं मिल पाया। इससे अवसाद में आए मजदूर ने जहर खा लिया।

मुर्तजा की पत्नी और दो बच्चे उन्हें शहर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए। इसके बाद उन्हें कुरनूल के सरकारी अस्पताल ले जाया गया।

नोटबंदी से जुड़ा यह शहर का दूसरा मामला है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को भारतीय स्टेट बैंक की शाखा से पैसे निकालने का इंतजार कर रहे 62 वर्षीय सेवानिवृत्त सरकारी कर्मचारी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह दो घंटे से नकदी लेने के इंतजार में था।

=>
=>
LIVE TV