Friday , March 31 2017

कर डाले लाखों जतन लेकिन नहीं छूट रही तम्बाकू की लत, तो पढ़ें ये खबर

तम्बाकू का नशातम्बाकू का नशा आदमी के लिये एक धीमा जहर है. तम्बाकू का सेवन  हानिकारक है किंतु बाद में लाख छुड़ाने पर भी यह लत छूटती नहीं. तम्बाकू सेवन से धीरे-धीरे जीवन शक्ति कम होती जाती है. हौले-हौले यह आदमी की जान लेता है. तम्बाकू उत्पादों का सेवन अनेक रूप में किया जाता है, जैसे बीड़ी, सिगरेट, गुटखा, जर्दा, खैनी, हुक्का, चिलम आदि.

देखा गया है अधिकतर लोग किशोरावस्था या युवावस्था में दोस्तों के साथ तम्बाकू उत्पादों का शौकिया रूप में सेवन करते हैं. शौक कब आदत बन जाता है पता ही नहीं चलता. जब तक यह समझ आता है तब तक शरीर को बहुत नुकसान पहुँच चुका होता है.

तम्बाकू खाने की आदत को धीरे-धीरे छोड़ा जा सकता है. यह एकदम नहीं छोड़ी जा सकती क्योंकि रक्त में निकोटिन के स्तर को धीरे-धीरे ही कम किया जा सकता है.

तम्बाकू छोड़ने के घरेलु एव सरल उपाय-

  • बारीक सौंफ के साथ मिश्री के दाने मिलाकर धीरे-धीरे चूसें, नरम हो जाने पर चबाकर खा जाएं.
  • अजवाइन को नींबू के रस व काले नमक में दो दिन तक भीगने दें. इसे छांव में सुखाकर मुंह में रखकर चूसते रहें.
  • तंबाकू सूंघने की आदत छोड़ने के लिए गर्मी के मौसम में केवड़ा, गुलाब, खस आदि के इत्र का फोहा कान में लगाएं.
  • सर्दी के मौसम में तंबाकू खाने की इच्छा होने पर हिना की खुशबू का फोहा सूंघें.

 

 

LIVE TV