Friday , February 23 2018

दिल्ली सरकार ऑड-ईवन पर आज ही दाखिल करेगी रिव्यू पीटिशन

दिल्ली सरकारनई दिल्ली। दिल्ली में खतरनाक हो चुके प्रदूषण को चलते ऑड-ईवन लागू करने पर बहस जारी है। इस पर आज दिल्ली सरकार को रिव्यू पीटिशन दायर करनी थी लेकिन सरकार की तरफ से सुबह दाखिल नहीं की गई थी। अब खबर है कि सरकार आज ही याचिका दायर करेगी।

सुबह तक पीटिशन न दायर होने पर एनजीटी ने कहा था कि लगता है कि दिल्ली सरकार ने रिव्यू पीटिशन डालने की जानकारी सिर्फ मीडिया को दी थी। क्योंकि अभी तक सरकार ने रिव्यू पीटिशन दाखिल नहीं की है।

लेकिन आम आदमी पार्टी की तरफ से ये पूछे जाने पर कि क्या सरकार एनजीटी में ऑड-ईवन को लेकर रिव्यू पीटिशन दाखिल करेगी।

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल के मीडिया एडवाइजर नागेन्द्र शर्मा ने कहा है कि आज अभी भी रिव्यू पीटिशन दाखिल करने का वक्त है। हमने कहा था कि हम आज रिव्यू पीटिशन दाखिल करेंगे और आज का मतलब सुबह के 9 बजे नहीं होता।

शनिवार को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के महिलाओं और दो पहिया वाहनों को ऑड-ईवन के दौरान छूट नहीं देने के फैसले के बाद दिल्‍ली सरकार ने अपना फैसला वापस ले लिया था।

यह भी पढ़ें : एयर इंडिया ने राष्ट्रपति की बेटी को कैबिन क्रू की ड्यूटी से हटाया

जिसपर इस मामले में दिल्‍ली सरकार ने सोमवार को एनजीटी में पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का निश्चय किया था। इस याचिका में दिल्‍ली सरकार महिलाओं और दो पहिया वाहनों को छूट देने की मांग करेगी।

अगर एनजीटी दिल्‍ली सरकार की पुनर्विचार याचिका स्‍वीकार करता है तो दिल्‍ली सरकार मंगलवार से ऑड-ईवन दोबारा से लागू कर सकती है। दिल्ली सरकार के सूत्रों के मुताबिक, ऑड-ईवन के दौरान दो पहिया वाहन पर रोक लगने से करीब 35 लाख यात्रियों का एक्स्ट्रा बोझ बढ़ जाता।

जिसके लिए उनके पास कोई तंत्र मौजूद नहीं है। इससे पहले एनजीटी ने अपने आदेश में कहा था कि वीआईपी, दो पहिया वाहनों और महिलाओं को ऑड-ईवन के दौरान छूट नहीं दी जा सकती। इस दौरान सिर्फ इमरजेंसी गाड़ियां जैसे एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड, कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों को छूट दी गई थी।

=>
LIVE TV