Sunday , August 19 2018

मजदूरी का पैसे मांगने पर ठेकेदार ने मजदूर को मारी गोली

रिपोर्ट- पंकज श्रीवास्तव 

गोरखपुर। बेलीपार थाना क्षेत्र के ग्राम चेरिया में आज तड़के मजदूरी के पैसे की मांग से नाराज ठेकेदार पुत्रों ने मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी। सूचना पाकर बेलीपार पुलिस व क्षेत्राधिकारी बांसगांव ने मौके पर पहुंच शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आवश्यक कार्रवाई में जुटे है।

मौत

दरअसल बड़ी चेरिया गांव निवासी रामा चौधरी के दो पुत्र कमलेश व कृष्ण मोहन गांव के ही  ठेकेदारी करने वाले संतराज यादव के पास विशाखापट्टनम में मजदूरी का कार्य करते थे। इस दौरान कमलेश वह कृष्ण मोहन ने विशाखापट्टनम में अपनी मजदूरी का लगभग दो लाख रूपये ठेकेदार संतराज से मांगा। कमलेश के परिजनों का आरोप है कि पैसे के हिसाब के पेपर फाड़कर संतराज ने कमलेश व कृष्ण मोहन की पिटाई कर दी। इस बीच कमलेश अपनी पत्नी की डिलीवरी कराने के लिए कल ही अपने गांव वापस चला आया।

मृतक की मां जयमाला ने बताया कि विशाखापट्टनम मे रहकर पिछले 6 माह से पेंट और पॉलिश का काम कर रहे थे। कमलेश की पत्नी की डिलीवरी थी, इसी माह में इसको लेकर वह कल ही गांव आया हुआ था| आरोपियों से 2 लाख चाहिए था, जिसको लेकर बार-बार आरोपियों के पास जाकर अपने पैसे की मांग करता था।  ठेकेदार ने कमलेश से कहा कि रसीद दिखाओ कितना पैसा तुम्हारा बाकी है| कमलेश ने जब रसीद दिखाया तो ठेकेदार ने उस रसीद को फाड़ कर फेंक दिया और कमलेश को बुरी तरह मारा-पीटा, आरोपी ठेकेदार के बेटे गांव में ही रहते हैं, जिन्होंने आज सुबह कमलेश की गोली मारकर हत्या कर दी|

यह भी पढ़े: उम्रदराज व्यक्ति ने नाबालिग बच्ची को किए गंदे इशारे, कैमरे में कैद हुई सारी करतूत

इस संबंध में एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि मृतक पक्ष और अभियुक्त पक्ष एक दूसरे को अच्छी तरीके से जानते थे और वह विशाखापट्टनम में एक साथ काम भी करते थे| पैसे के लेनदेन के विवाद में दोनों में कहासुनी हुई थी, जिसको लेकर कल कमलेश अपने गांव वापस चला आया था| आज सुबह विपक्ष के लोगों ने उसे गोली मारकर हत्या कर दी, इस मामले में 6 लोगों को नामजद किया गया है| जिसमें एक की गिरफ्तारी कर ली गई है और बाकियों की तलाश जारी है|

 

=>
LIVE TV