इस दिशा में रखें धातु के सिक्के, ऐसे बदलेगी किस्मत, नहीं होगा विश्वास

हर व्यक्ति की कामना होती है कि उसका एक सुंदर और वास्तु के अनुसार घर हो जिसमें वह और उसका परिवार प्रेम, सुख शांति से जवान जी सके। लेकिन यदि उस भवन में कुछ वास्तु दोष हो तो भवन के निवासियों को पारिवारिक, आर्थिक और सामाजिक कष्टों का सामना करना पड़ता है।

भवन के निर्माण के बाद उसे फिर से तोड़कर वास्तु दोषों को दूर करना बहुत कठिन होता है। इसलिए हमारे ऋषि-मुनियों ने बिना किसी तोड़-फोड़ कर इस दोषों को दूर करने के आठ आसान से उपाय बताए हैं। जिन्हें करके हम निश्चित ही अपने जीवन को और भी अधिक ऊँचाइयों पर ले जा सकते है।

वास्तु दोष

आईए जानते हैं ये आठ आसान उपाय।

  1. घर में छत के उपर पानी की टंकी दक्षिण-पश्चिम दिशा में होनी चाहिए। इसके अलावा किसी भी अन्य दिशा में बनाई गई पानी की टंकी अशुभ मानी जाती है।
  2. घर की उत्तर-दक्षिण दिशा में धातु के सिक्कों से भरा कटोरा रखना चाहिए। यह दिशा घर के स्वामी के नेतृत्व की दिशा मानी जाती है। इस दिशा में धातु के सिक्कों से भरा कटोरा रखने से घर के स्वामी को कई लाभ मिलते हैं।
  3. किचन में अग्नि और पानी के बीच दूरी होनी चाहिए। अग्नि तत्व व पानी तत्व दोनों आपस में विरोधी होते हैं। इसलिए इन्हें एक-दूसरे के आस-पास रखना सही माना जाता है।
  4. घर में साफ-सफाई करते समय पानी में थोड़ा सा नमक मिला लेना चाहिए। ऐसा करने से घर में पॉजिटिव एनर्जी बनी रहती है।
  5. घर में फैमिली फोटो लगाने के लिए की दक्षिण-पश्चिम दिशा को सबसे शुभ माना जाता है। इस दिशा में घर के सभी सदस्यों की फोटो लगाने से परिवार में प्यार और अपनापन बना रहता है।
  6. घर के हर सदस्य को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे कमरे के गेट के सामने पैर करके न सोएं। यह बात वास्तु के अनुसार सही नहीं मानी जाती।
  7. घर की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। घर में फैली धूल-मिट्टी या गंदगी घर में नेगेटिविटी का कारण बनती हैं।
  8. घर के मंदिर में अन्य देवताओं के साथ वास्तु देव की भी एक तस्वीर या मूर्ति स्थापित कर, उनकी नियमित पूजा करनी चाहिए। ऐसा करने से घर से जुड़े वास्तु दोष अपनेआप खत्म होने लगते हैं।

=>
LIVE TV