Wednesday , December 2 2020
Breaking News

मनरेगा कार्य राशि में भारी भरकम  भ्रष्टाचार, कई लोगों पर लगें आरोप

अमर सदाना

धमतरी। मगरलोड ब्लॉक के ग्राम पंचायत बोडरा में मनरेगा कार्य एवं 14वे वित्त की राशि में जमकर  भ्रष्टाचार करने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया है। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत बोडरा में सन्  2015- 16 में रोजगार गारंटी योजना के तहत हुए हाईस्कूल मैदान समतलीकरण कार्य में भारी अनियमितता बरती गई है।

जिसका खुलासा सूचना के अधिकार के तहत प्राप्त दस्तावेज से हुआ है। 859।25 घन मीटर मिट्टी का मूल्यांकन करके 1 लाख 20 हजार 406 रुपये की भारी राशि निकाला गए हैं। जबकि केवल 50 घन मीटर मिट्टी ही वहां डाला गया है। मनरेगा  के अनुपात का उल्लंघन करते हुए उक्त स्वीकृत कार्य में मजदूरों का नाम नहीं डाला गया है।

मिट्टी परिवहन की दूरी अधिक बताकर मूल्यांकन किया गया है। जबकि मिट्टी सिर्फ आधा किलोमीटर दूरी भोई  तालाब से लाया गया है। उक्त भोई तालाब गहरीकरण के लिए स्वीकृत था और गहरीकरण के कार्य में लगे मजदूरों से मिट्टी लोडिंग कराया गया है जो 50 घन मीटर मिट्टी डाला गया है उसे स्थानीय ट्रैक्टरो से लाया गया है।

साथ ही ग्राम पंचायत बोडरा में 14वें वित्त एवं पंचायत फण्ड, अन्य मदो की राशि का मनमानी ढंग से रुपयो का आहरण किया गया है। ड़बरी में मिट्टी, स्ट्रीट लाईट पम्प मरम्मत, होटल ढाबा का फर्जी बिल लगाकर आहरण किया गया है।

इस मामले में जाँच एवं कारवाई की मांग लेकर कलेक्टर एवं लोकपाल में ज्ञापन सौपा गया है। ग्रामीणों की मांग है कि इस मामले में निरपेक्षता के साथ जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाये।

ग्रामीणों ने यह भी मांग है कि मगरलोड जनपद को छोड़कर अन्य अधिकारियो से मामले की जाँच ग्रमीणों के  समक्ष कराई जाये।

मामले में सरपंच रोशनी वर्मा का कहना है कि  हाईस्कूल मैदान समतलीकरण में  किसी भी प्रकार की अनिमियता नही बरती गयी है। मास्टर रोल के हिसाब से काम हुआ है। इंजीनियर के समक्ष मूल्यांकन कर बिल प्रस्तुत किया गया है।

About publisher

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *