Monday , June 24 2019
Breaking News

बिना शिक्षक पढ़ने को मजबूर बच्चे, प्रशासन ने नहीं दी नियुक्ति

अमर सदाना

मुंगेली। एक ऐसा हाई स्कूल जिसे खुले आठ साल हो चुके हैं। परंतु आज तक एक भी शिक्षक की स्थायी नियुक्ति नहीं हो सकी। साथ ही जिनका हुआ भी तो वे ज्वाइनिंग नहीं किये।

पूरा मामला मुंगेली के पथरिया विकासखंड के ग्राम भरेवा की है। जहाँ सन् 2011 में शासन की योजना के तहत मिडिल स्कूल को हाई स्कूल में उन्नयन किया गया। जिसके लिए लाखों की लागत से भवन भी बनाई गई और हाई स्कूल संचालित भी होने लगी।

परंतु आठ साल बाद भी शिक्षक की स्थायी नियुक्ति नहीं हो पाई है। वहीं दूसरे स्कूल में पदस्थ तीन शिक्षक और एक शिक्षिका से व्यवस्था के नाम पर काम चलाई जा रही है, जो कि पर्याप्त नहीं है। वहीं बच्चों ने बताया कि अटेचमेंट के बाद भी अंग्रेजी व हिन्दी के शिक्षक नहीं हैं।

साथ ही सफाई कर्मचारी व चपरासी की भी व्यवस्था नहीं है जिसके चलते बच्चों को ही सारा काम करना पड़ता है,जिससे पढाई भी प्रभावित हो रही है।

बता दें यहां प्रेक्टिकल के संसाधन नहीं होने के कारण बच्चे प्रेक्टिकल नहीं कर पाते इसके बाद भी उन्हें हर साल प्रेक्टिकल के नम्बर भी मिल रहे हैं। अब ऐसे मे अव्यवस्थाओ के बीच बच्चों को किस स्तर की शिक्षा मिल पायेगी सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

वहीं शिक्षकों ने उच्चधिकारियों का हवाला देते हुए कहा कि अधिकारियों द्वारा जो निर्देश दिये गये है। उसी का पालन किया जा रहा है। जिस पर अधिकारी ने नये शिक्षकों की भर्ती नहीं होने के चलते व्यवस्था पर संचालित करने की बात कह रहे है।

परंतु ये सोचने वाली बात है कि शासन उन्नयन कर नवीन स्कूल तो खोल रही है। शिक्षकों की भर्ती नहीं तो ऐसे कैसे आयेगी शिक्षा मे गुणवत्ता ये समझ से परेय है।

About publisher

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *