Thursday , September 24 2020
Breaking News

छात्राओं के क्लास में ‘सरकारी कचरा’, प्रशासन ने मूंदी आंखें

मनोज चतुर्वेदी

बलिया। जहां एक तरफ देश में स्वछता अभियान की मुहीम चलाई जा रही है। वहीँ यूपी बलिया जनपद के राजकीय बालिका विद्यालय की छात्राएं सरकारी कचरे के बीच पढ़ने को मज़बूर हैं।

बलिया जनपद के राजकीय बालिका विद्यालय

छात्राओं के क्लास के बगल में मौजूद सरकारी कॉलोनी के लोग आये दिन छात्राओं के क्लास में घर का कचरा फेक देते है।

सरकार कहती है कि स्वछता अपनाओं और सरकारी कॉलोनी में रहने वाले सरकारी कर्मचारियों के परिवार सरकारी स्कूल के क्लास में घर का कचरा फेकते है।

इस सरकारी कचरे के बीच सरकारी स्कूल की छात्राएं पढ़ने  को मज़बूर है। बलिया जनपद का राजकीय बालिका विद्यालय जहां छात्राएं खिड़कियों पर पड़े कचरे के बीच पढ़ाई कर रही है।

दरअसल जीजीआईसी के कुछ क्लास बाउंड्री वाल के पास  मौजूद सरकारी कॉलोनी के करीब  है। ऐसे में कॉलोनी में रहने वाले अपने घरों का कूड़ा कचरा आये दिन विद्यालय के बाउंड्री में फेक देते है। जिससे कचरा छात्राओं के क्लास की खिड़कियों पर जमा हो जाता है।

सरकारी कॉलोनी  से विद्यालय में कूड़ा फेकने का सिलसिला पिछले कई सालों से बदस्तूर जारी है। ऐसे में  बदबू और संक्रमण के बीच छात्राएं पढ़ाई करने को मज़बूर है।

राजकीय बालिका विद्यालय की प्रिंसिपल का कहना है कि कॉलोनी के लोगो को कई बार समझाया गया लेकिन वो मानने को तैयार नहीं।

सरकारी कालोनियों के सरकारी कूड़े से परेशान विद्यालय ने नगरपालिका सहित कई विभागों को पत्र लिखा। लेकिन किसी ने भी छात्राओं की इस मुश्किल पर कोई कार्यवाई नहीं की।

नगरपालिका बलिया के अधिशासी अधिकारी का कहना है की जल्द ही विद्यालय में सफाई अभियान चलाकर कूड़ा फेकने वालों पर कार्यवाई की जाएगी।

About publisher

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *