Tuesday , November 24 2020
Breaking News

शौचालय निर्माण को लेकर सामने आया गबन का मामला, जिलाधिकारी ने दिए जांच के निर्देश

संदीप श्रीवास्तव

आजमगढ़। जिले में सरकार की महत्वाकांक्षी योजना शौचालय निर्माण में करीब 18 लाख रूपये गबन का मामला सामने आया है। गांव में 150 शौचालयों का करीब 18 लाख रूपये ग्रामनिधि के खाते से ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी ने निकालकर लाभार्थियों को नहीं दिया बल्कि सारे रूपये डकार गये।

शिकायत में मामला सही पाये जाने पर जिलाधिकारी ने ग्राम विकास अधिकारी और ग्राम प्रधान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किये जाने का निर्देश दिया है। मामला पल्हना ब्लाक के लहुआंखुर्द गांव का है।

आजमगढ़ जिले का पल्हना ब्लाक का लहुआंखुर्द गांव सांसद आदर्श गांव के रूप चयन हुआ था। वर्ष 2015-16 में गांव में सरकार की महत्वाकांक्षी योजना शौचालय निर्माण के लिए 150 शौचालयों के निर्माण कराया जाना था।

तत्कालीन ग्राम प्रधान सरोजा देवी ने ग्रामीणों से शौचालय बनने के लिए प्रेरित किया और पैसा आने पर प्रत्येक को 12 हजार रूपये दिये जाने का आश्वासन दिया था। इस दौरान ग्रामीणों ने 40 शौचालयों का अपने दम पर निर्माण करा लिया। लेकिन दो वर्ष बीत जाने के बाद भी एक फुटी कौड़ी भी नहीं मिली।

जिसके बाद नये ग्राम प्रधान और ग्रामीणों ने ब्लाक से लेकर जिलाधिकारी कार्यालय तक शिकायत की। जिसके बाद पता चला कि महज दो दिनों के अन्दर ग्राम निधि के खातो से 18 लाख रूपये ग्राम प्रधान सरोजा देवी और ग्राम विकास अधिकारी चन्द्रशेखर सिंह ने निकाल कर भुना लिये थे।

वही मामले की जानकारी जिलाधिकारी को हुई तो उन्होने जांच कराया। जांच में यह बात सामने आयी कि जिन लाभार्थियों ने शौचालय का निर्माण कराया है वह अपने रूपये से कराया है।

सभी 150 शौचालयों का करीब 18 लाख रूपया ग्राम निधि के खाते से महज दो दिनों के अन्दर निकाला गया है। इस मामले में ग्राम विकास अधिकारी चन्द्रशेखर सिंह को निलम्बित कर विभागीय जांच के आदेश दिये गये है। ग्राम प्रधान और ग्राम विकास अधिकारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया गया है।

About publisher

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *