Saturday , August 24 2019
Breaking News

जल संकट से परेशान जिलाधिकारी का फरमान, बंद होंगे वाहन धुलाई सेन्टर

बुन्देलखण्डझांसी। बुन्देलखण्ड का सूखा विश्व विख्यात हो गया है, ऐसे में यहां के हालात उस दोराह पर पहुंच गए हैं जहां झांसी के जिलाधिकारी को एक ऐसा फरमान जारी करना पड़ा, जिसे सुनकर वाहन धुलाई सेन्टर संचालक सहम गए।

बुंदलखण्ड के घटते जल स्तर को देखते हुए ये निर्णय लिया गया कि वाहन के धुलाई सेन्टर बंद कर दिए जाए। जिससे पानी का नुकसान न हो। अपर नगर आयुक्त रोहन सिंह ने बताया कि धुलाई सेन्टर बंद करने के लिए सभी थानों को निर्देशित कर दिया गया है।

स्वच्छ भारत अभियान को लेकर समर कैंप में बच्चों की मुहिम, दे रहें स्वच्छता का सन्देश

वहीं देखने को मिला कि सरकारी फरमान को हवा में उड़ा दिया गया है। चोरी छिपे तरीकों से वाहन धोए जा रहे हैं।  जीवन शाह तिराहे के पास स्थापित धुलाई सेन्टर  कार व दो पहिया वाहन जो कि अब तक सड़के पर धोए जाते थे। उन्हें बाकायदा लाइन लगवाकर धोया जा रहा है।

पानी के लिए बुदेलखण्ड में पानी का संकट लगातार गहराता जा रहा है। हालात इस कद्र बेकाबू हो चुके हैं कि पानी के लिए त्राहि-त्राहि हो रही है। जिससे आम जनता परेशान हैं। पानी के लिए आम जनता को काफी दूर का सफर तय करना पड़ रहा है। इन्हीं सारी बातों को लेकर हमारी टीम ने झांसी जिले के बड़ागांव इलाके का दौरा किया।

केंद्र सरकार की अमृत योजना में चौथी सूची में आया बरेली

यहां सामने आया कि क्षेत्र में कई हैण्ड पम्प लगे हुए हैं। बाबजूद इसके इन दिनों केवल दो हैण्ड पम्प ही काम कर रहे हैं। बचावती और गौरामछिया क्षेत्र में पानी की खासी किल्लत है।

About publisher

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *