ब्रिटिश महिला की मौत का कारण बने नर्व एजेंट के स्रोत का हुआ खुलासा

लंदन| पुलिस ने नर्व एजेंट ‘नोविचोक’ के उस स्रोत का पता लगा लिया है, जिसके संपर्क में आकर इस सप्ताह की शुरुआत में एक ब्रिटिश महिला की मौत हो गई थी। डरिंगटन की रहने वालीं डॉन स्ट्रगस (44) 30 जून को नोविचोक के संपर्क में आ गई थीं। आठ जुलाई को सेलिसबरी डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में उनकी मौत हो गई।

ब्रिटिश महिला

उनके पति चार्ली रौली (45) भी नर्व एजेंट के संपर्क में आकर बीमार पड़ गए थे और अभी भी अस्पताल में हैं।

मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि रौली के घर से एक छोटी बोतल बरामद हुई है, जिसकी पहचान नर्व एजेंट के स्रोत के रूप में हुई है।
हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि रौली को बोतल कहां से मिली या कहीं यह वहीं नर्व एजेंट तो नहीं है जिसका इस्तेमाल मार्च में पूर्व रूसी जासूस सर्गेइ स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया की हत्या करने के मकसद से किया गया था।

यह भी पढ़े: डोनाल्ड ट्रंप हार सकते थे राष्ट्रपति चुनाव, अगर एफबीआई एजेंट ने नहीं छुपाई होती ये जानकारियां

स्वास्थ्य एजेंसी ‘पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड’ ने नागरिकों से शीशे, धातु या प्लास्टिक से बने किसी संदिग्ध सामान को नहीं उठाने की सलाह दी है।

ब्रिटेन के आतंकवाद-रोधी पुलिस प्रमुख नील बसु ने कहा कि इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि सभी पदार्थ मिल गए हैं। तलाशी जारी है।

=>
LIVE TV