Thursday , October 18 2018

हज की तैयारियों में बरती जा रही लापरवाही, अभी तक नहीं हुआ कमेटी का गठन

रिपोर्ट- अर्सलान समदी

लखनऊ। मुल्क के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश से बड़ी तादाद में अज़मीने हज, हज के पवित्र सफर पर जाते है। जिसका बंदोबस्त उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति करती है लेकिन इस बार हज 2019 की तैयारियों से पहले ही कमेटी के गठन के ना होने के चलते आज़मीने हज को दुश्वारियां का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि अफसर कुछ और ही बयां कर रहे है।

vinit

उत्तर प्रदेश में 2019 हज के सफर को लेकर जहां पहले से तैयारियों की बात कही जा रही थी तो दूसरी तरफ सरकार की तरफ से अभी कमेटी का ही गठन नहीं किया गया है। दरअसल 27 अगस्त से बिना कमेटी के ही यूपी की हज समिति चल रही है जिसका साफ असर 2019 के हज सफर पर लाजमी माना जा रहा है। हालांकि अधिकारी इस बाद को लेकर गोल मटोल जवाब देते दिखाई देते हैं अफसरों का कहना है कि जल्द ही कमेटी का गठन हो जाएगा और अज़मीने हज को किसी तरह की दुश्वारियों का सामना नही करना पड़ेगा।

इस बीच जानकारों की माने तो उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति में हज आवेदन के फार्म 15 अक्टूबर से निकाले जाने थे लेकिन समिति के गठन की देरी के चलते इन आवेदन फार्म की तारीख बढ़ाई जा सकती है। अब बड़ा सवाल यह खड़ा हो सकता है कि जब देश की सबसे बड़े प्रदेश जहाँ से सबसे ज़्यादा मुसलमान हज के पाक सफर पर जाते है तो फिर इसको लेकर संजीदगी क्यों नही दिखाई जा रही है।

वहीं इस हिलावाली पर हज पर जाने वाले हाजी हारून नाराज़गी का इज़हार कर रहे है उनका साफ तौर पर कहना हैं कि हज समिति को अपने कामों को बखूबी अंजाम देने की ज़रूरत है क्योंकि हर मुसलमान की हज पर जाने की दिली ख्वाहिश होती है और ऐसे ही हिलावाली के चलते काम किया जाएगा तो अज़मीने हज को दुश्वारियों का सामना करना पड़ेगा।

तो वही इस मसले पर मुसलमानों के बड़े रहनुमा मौलाना ख़ालिद राशीद फ़िरंगी महली ने भी इस मामले को संजीदगी से लेते हुए कहा कि उत्तरप्रदेश सरकार को चाहिए कि इसको पहली फुर्सत में अंजाम दिया जाए और हज कमेटी का जल्द से जल्द तशकील हो जिससे किसी भी अज़मीने हज को किसी तरह की दुश्वारी न होने पाए।

यह भी पढ़े: जुमले गढ़ने की बजाय सभी वर्गो के विकास पर होगा ध्यान: राहुल गांधी

तो दूसरी ओर इस मामले में हज कमेटी के अफसर विनीत श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि कमेटी के गठन के लिए शासन को प्रस्ताव भेज दिए गया है और जल्द ही कमेटी का गठन कर दिया जाएगा जिससे हज 2019 में अज़मीने हज को किसी भी तरह की परेशानी नही होने पाएगी।

=>
LIVE TV