Wednesday , February 22 2017

श्री मुरारी बापू जी

मनुष्‍य जन्‍म से अपराधी नही होता

अपराध

मोरारी बापू ने कहा कि आदमी तीन प्रकार के अपराध करता है एक आदतवश, दूसरा अनचाहा तथा तीसरा मुढ़ता के कारण। उन्होने कहा कि अगर आदमी की मानसिकता सत्य की उपासना वाली हो तो परमात्मा सभी मजबूरियां मिटा देता है। असत्य आता है तो प्रेम का प्रवाह अवरूद् हो जाता ...

Read More »

तनाव-मुक्त जीवन की ओर बढ़ो

तनाव

जब तुम तनाव  में होते हो, तब तुम्हारो भौहें चढ़ जातीं हैं। जब तुम इस तरह त्योरी चढाते हो, तब तुम चेहरे की  ७२ नसें और माँस-पेश्यियाँ उपयोग में लाते हो। लेकिन जब तुम मुस्कुराते हो तब उन में से केवल ४ का उपयोग करते हो। अधिक कार्य का अर्थ ...

Read More »

प्रेम तीनों लोकों में व्‍याप्‍त है: मुरारी बापू

प्रेम

जब तक विकार है, विश्राम संभव ही नहीं। अविकार की भूमिका विश्राम का स्वरूप या कहें कि विश्राम की पहचान है। प्रेम ही इस भवसागर से पार उतारने वाला एकमात्र उपाय है। प्रेमी बैरागी होता है, जिससे आप प्रेम करते हैं, उस पर न्यौछावर हो जाते हैं। त्याग और वैराग्य ...

Read More »

घर बेटी जन्मे तो शगुन मनाओ: मोरारी बापू

घर बेटी जन्मे

मुरारी बापू ने व्यास पीठ से आवाहन किया है कि हरहाल में हम सबको, पूरे विश्व को मिलकर कन्या भ्रूण हत्या को रोकना होगा। बापू ने कहा कि सभी घर में बेटा पैदा होने पर खुशी मनाते है मगर घर बेटी जन्मे तो सबकों शगुन मनाना चाहिए। बापू ने कहा ...

Read More »

परमात्मा सभी मजबूरियांं मिटा देता है

शिव की तीन आंखे

मोरारी बापू ने कहा कि भगवान शिव की तीन आंखे है। दांयी आंख सत्य की आंख है, बांयी करूणा की आंख है, बीच की आंख प्रेम की आंख है जो अग्निरूपा है। बापू ने मानस प्रेम की रसधार बहाते हुए कहा कि प्रेम एक आग है इसमें उतरकर ही परमात्मा ...

Read More »

भीतरी प्रसन्‍नता

मुरारी बापू की बातें

मुरारी बापू की बातें आज के समाज और विश्‍व के लिए सार्वभौमिक हो गई हैं। मुरारी बापू की बातें  हमें जीवन को जीने का सही तरीका बताती हैं। परिचय तो हम आपको पहले ही करा चुके हैं। लेकिन संत वो संत ही क्‍या जिसके विचारों का अंत हो जाए। ये तो ...

Read More »

भक्ति की तकनीक

भारत के प्रसिद्ध हिन्दू कथाकार मुरारी बापू का जन्म 25 सितम्बर सन 1946 को महुवा के निकट तल्गाजर्दा गुजरात में हुआ। इनका पूरा नाम मोरारीदास प्रभुदास हरियानी है। मुरारी बापू जी अपनी कथा का वर्णन हिंदी और गुजराती में देते है। उनकी एक कथा 9 दिन तक चलती है और भारत, दक्षिण ...

Read More »
LIVE TV