हर तरफ से मुंह की खाने के बाद पाक ने सीमा पर की ये नापाक हरकत, कैसे जवाब देगा भारत

पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे पर लगभग हर देश से मदद की गुहार लगा चुका है लेकिन भारत की ताकत को देखते हुए किसी भी देश ने पाकिस्तान का साथ नहीं दिया है. जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाये जाने पर पाकिस्तान जैसा बौखला गया है. इसी को देखते हुए पाकिस्तान अफगानिस्तान सीमा पर लगे अपने जवानों को भारतीय सीमा पर तैनात कर रहा है. पाकिस्तान पहले ही अफगानिस्तान मुद्दे को लेकर अमेरिका को ब्लैकमेल कर चुका है लेकिन फिर भी अमेरिका ने पाकिस्तान का साथ देने से मना कर दिया. अब पाकिस्तान हर वो काम करने की कोशिश में है जिससे भारत को नुकसान पहुंचे.

imran khan

फिलहाल अमेरिका और तालिबान के बीच अफगान शांति वार्ता अंतिम चरण में है और अमेरिका अफगानिस्‍तान से अपने सैनिकों को हटाने की योजना पर काम रहा है. ऐसे में अफगानिस्तान सीमा से पाकिस्तानी सैनिकों को हटाने से वहां के हालात प्रभावित हो सकते हैं. सेना को वहां से हटाने का संकेत देकर पाकिस्तान परोक्ष रूप से अमेरिका पर दबाव बनाने की कोशिश में है.

अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत असद मजीद खान ने एक इंटरव्यू में परोक्ष रूप से कहा, कश्मीर और अफगानिस्तान अलग-अलग मुद्दे थे और वह उन्हें जोड़ने का प्रयास नहीं कर रहे.

पाकिस्तान को उम्मीद है कि अमेरिका-तालिबान वार्ता सफल होगी और उनका देश सक्रिय रूप से इसका समर्थन कर रहा है, लेकिन कश्मीर में भारत के कदम हमारे लिए ज्यादा परेशानी वाले हैं.

प्रेरक प्रसंग- क्या है जीवन जीने की कला…

अपनी दलील में असद ने कहा कि कश्मीर पर भारत सरकार का फैसला ऐसे समय में आया है, जब पाकिस्तान का पूरा ध्यान अफगान सीमा पर तालिबान की घुसपैठ रोकने पर है.

उन्होंने कहा, कश्मीर की मौजूदा स्थिति पाकिस्तान के लिए अहम है. असद ने आगे कहा, अगर पूर्वी सीमा पर स्थिति बिगड़ती है, तो हमें अफगानिस्‍तान सीमा से अपने सैनिकों की संख्‍या कम करनी होगी. हम ऐसा नहीं सोच रहे लेकिन पूर्वी सीमा पर क्या हो रहा है हमें इसपर भी ध्यान देना है.

=>
LIVE TV