गुड़गांव में हुआ हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, यहां बुक होती थीं विदेशी कॉल गर्ल

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़गुड़गांवसदर थाना क्षेत्र स्थित आशियाना गेस्ट हाउस में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ। पुलिस ने मारी गयी रेड में दस युवतियों को गिरफ्तार किया। ख़ास बात यह है इस रैकेट में दो विदेशी युवतियां भी शामिल थीं। पुलिसिया जांच में सामने आया है कि यहाँ ऑन डिमांड लड़कियां बुक कराई जाती थीं। लोग ऑनलाइन फोटो सेलेक्ट कर ही लड़कियां बुक कराई जाती थीं।

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़

पुलिस ने सभी के खिलाफ केस दर्ज कर सोमवार को कोर्ट में पेश किया। यहां से सभी को जेल भेज दिया गया। आरोपियों में गेस्टहाउस का मैनेजर भी शामिल है। पुलिस ने गेस्ट हाउस के सीसीटीवी के अलावा एंट्री रेकॉर्ड भी कब्जे में लिया है।

सदर थाना प्रभारी विजय कुमार को रविवार रात सूचना मिली कि सेक्टर 51 के प्लॉट नंबर 186 स्थित आशियाना गेस्टहाउस में सेक्स रैकेट चल रहा है। इसमें विदेशी युवतियां भी शामिल हैं। सूचना के आधार पर पुलिस की एक टीम देर रात गेस्ट हाउस के निकट गई। यहां पर काफी देर तक गेस्ट हाउस में आने जाने वालों पर नजर रखी गई।

मामला गंभीर लगने पर इस सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ करने के लिए एक पुलिस टीम का गठन किया गया। इसमें महिला पुलिसकर्मियों को भी शामिल किया गया। इसके बाद गेस्ट हाउस में छापेमारी की गई। रेड के दौरान कई जोड़े यहां से अरेस्ट किए गए। इनमें से दो विदेशी युवतियां भी थी। पुलिस ने यहां से मैनेजर को भी गिरफ्तार किया। उसके मोबाइल के अलावा एंट्री रजिस्ट्रर, सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस ने कब्जे में ली। आरोपियों के खिलाफ देर रात सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज किया।

सेक्स रैकेट केस में गिरफ्तार दो विदेशी युवतियों से पूछताछ में चौंकाने वाला तथ्य सामने आए हैं। आरोपी युवतियों में एक कजाकिस्तान की है, तो दूसरी उजबेकिस्तान की। कजाकिस्तान की युवती के पास गुड़गांव से बना आधार कार्ड भी है। वहीं, दोनों युवतियों के पास न तो पासपोर्ट हैं और न ही वीजा। ऐसे में दोनों इंडिया कैसे आईं, यह बड़ा सवाल है। पुलिस ने आधार कार्ड को लेकर प्रॉजेक्ट मैनेजर से रिपोर्ट मांगी है। इसके बाद युवती पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया जाएगा।

आशियाना गेस्ट हाउस का मैनेजर विक्रम सोशल मीडिया पर कस्टमर को युवतियां दिखाता था। सोशल मीडिया से ही फोटो भेजे जाते थे। इसके बाद रेट तय होता था। मामला तय हो जाने पर युवतियों को गेस्ट हाउस में कॉल करके बुला लिया जाता था। मैनेजर के मोबाइल से पुलिस को अहम सुराग मिले हैं। तीन मंजिले से इस गेस्ट हाउस में पुलिस को तीन भारतीय लड़िकयां भी मिलीं। सभी युवक और युवतियां आपत्तिजनक अवस्था में मिले। पता चला कि कई माह से यह धंधा चल रहा था।

गेस्ट हाउस में कमरे का किराया कस्टमर से अलग से लिया जाता था। पुलिस ने मौके से यूपी के अमेठी निवासी भीम सिंह, यूपी के फिरौजाबाद निवासी रिंकू, अनूप व निखिल के अलावा जसौला विहार नई दिल्ली निवासी लव किशन को अरेस्ट किया है। सदर थाना प्रभारी विजय कुमार ने बताया कि कजाकिस्तान की युवती का गुड़गांव से आधार कार्ड बना हुआ है। इस बारे में पुलिस ने प्रॉजेक्ट मैनेजर से रिपोर्ट मांगी है।

=>
LIVE TV