सर्जिकल स्ट्राइक के हीरो ने बताया कि मैं कांग्रेस से नहीं जुड़ा… उनके लिए कर रहा हूं ये काम

नई दिल्ली। लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने की खबरों पर विराम लगा दिया है. उन्होंने कहा कि मैंने कांग्रेस ज्वाइन नहीं किया है. केवल राष्ट्रीय सुरक्षा पर कांग्रेस पार्टी की ओर से गठित किए जा रहे टास्क फोर्स की अगुवाई करुंगा.

कांग्रेस ज्वाइन करने को लेकर कयासों का दौर उस समय शुरू हो गया था जब वह पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने पहुंचे थे और दोनों का एक फोटो कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से शेयर किया गया था. इस फोटो में राहुल गांधी और हुड्डा दोनों एक दूसरे से गर्मजोशी से हाथ मिलाते दिख रहे हैं.

अपने ट्वीट में कांग्रेस ने भी साफ कर दिया था, “हुड्डा टास्क फोर्स का नेतृत्व करेंगे और विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श के साथ विजन पेपर तैयार करेंगे.”

लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा 29 सितंबर 2016 को पाकिस्तान पर हुए सर्जिकल स्ट्राइक के समय सैन्य कमांडर थे. यह सैन्य कमांडर उत्तरी कमान का अगुआ होता है. सर्जिकल स्ट्राइक के वक्त इस अभियान की निगरानी कर रहे थे.

आतंकियों को जन्नत में मिलती है 72 पत्नियां, जानें सच या गलत

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद उनका एक बयान भी काफी सुर्खियों में रहा था. इस बयान में उन्होंने कहा था कि इस अभियान को ज्यादा हाईप दिया गया और थोड़ा राजनीतिकरण हो गया. मगर सेना के लिहाज से कहें तो हमें इसको करने की जरूरत है और हमने उसे बखूबी अंजाम दिया.

=>
LIVE TV