सपने में आए हनुमानजी ने की घोषणा, ये नेता रखेगा राममंदिर की नींव

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी शनिवार को कुम्भ मेले की तैयारियों के बारे में जानने के लिए प्रयागराज पहुंचे। और वह यहाँ की तैयारियों का जायजा पुरे 3 घंटे तक लेते रहे है। इतना ही नहीं वह संत के भेष में पूरे मेले में घूमे।

योगी लगभग 11 बजे मेला परिसर में पहुंचे,और करीब 2 बजे तक उन्होंने साधू संतो के शिविरों में घूमकर मेले तैयारियों और वहां की समस्याओं के बारे में भी जानकारी लेते रहे।वह सबसे पहले अनी अखाड़े पहुंचे और वहां के साधू संतो से बातचीत किया।

उसके बाद वह पंच निर्वाणी अनी और निर्मोही अखाड़े में ध्वज पूजन कार्यक्रम में भी शामिल हुए। फिर वह शैव अखाड़े में शामिल पंच अग्नि अखाड़े में भी पहुंचे।इस प्रकार से उन्होंने कई प्रसिद्ध अखाड़ो में गए और वहां के साधू सन्तो की मेले से जुडी समस्याओं के बारे में भी उनसे पूंछा।

सीएम के अखाड़े से जाने के बाद वहां पर उपस्थित रामजन्म भूमि के पक्षकार और निर्वाणी अनी अखाड़े के महंत धर्मदास ने बताया निर्वाणी अखाड़े में ध्वजा रोहण के दौरान हनुमान जी से आदेश मिला कि राममंदिर की पहली ईंट योगी आदित्यनाथ ही रखेंगे।

सरकार पर भारी पड़े आलोक वर्मा, कोर्ट ने निरस्त किया फैसला

उन्होंने यह भी कहा कि योगी के कार्यकाल में ही रामजन्म भूमि पर ही राममंदिर का निर्माण होगा। धर्मसंसद तो कुम्भ मेले में अखाड़ो के आने और उन अखाड़ो में धर्म ध्वजा स्थापित करने के साथ ही शुरू हो गई है। सीएम योगी ने भी सभी को आश्वासन भी दिया है कि राम मंदिर का निर्माण जरुर ही होगा और वह सभी के साथ है।

=>
LIVE TV