लोकसभा चुनाव से पहले 22 हजार अतिथि शिक्षकों को दिल्ली सरकार का तोहफा, क्या मिलेगा फायदा…

दिल्ली के स्कूलों में वर्षों से काम कर रहे 22 हजार अतिथि शिक्षकों को दिल्ली सरकार ने होली से पहले बड़ा तोहफा दिया है।

उनसे संबंधित शिक्षा विभाग के महत्वपूर्ण प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।

 

लोकसभा चुनाव से पहले 22 हजार अतिथि शिक्षकों को दिल्ली सरकार का तोहफा

इस प्रस्ताव पर उपराज्यपाल की मुहर लगने के बाद अतिथि शिक्षकों को बार-बार नौकरी के लिए आवेदन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी, बल्कि ये सभी शिक्षक हरियाणा की तर्ज तक 60 वर्ष की उम्र तक सेवाएं देते रहेंगे।

मुख्यमंत्री केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया।

अतिथि शिक्षकों ने इस फैसले का स्वागत किया है।

ये सरकारी एप करें अपने फोन में इंस्टाल, और पायें बेहतरीन योजनाओं का लाभ…

शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि इस प्रस्ताव के तहत दिल्ली में काम कर रहे अतिथि शिक्षक नियमित शिक्षकों की तरह सेवानिवृत होने तक सेवाएं देते रहेंगे।

प्रस्ताव पास कर उससे संबंधित फाइल उपराज्यपाल कार्यालय भेज दी गई है।

=>
LIVE TV