भारत- पाकिस्तान के बीच अहम बैठक आज, कई मुद्दों पर होगी चर्चा

श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर को लेकर जीरो लाइन पर आज 27 मई को भारत-पाकिस्तान के तकनीकी विशेषज्ञों की बैठक होने जा रही है। इस बैठक में डेरा बाबा नानक में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा व रावी नदी पर बनाए जा रहे पुल व दोनों देशों की ओर से पुल पर निर्माणाधीन स्वागती गेटों के डिजाइन पर चर्चा होगी।

भारत- पाकिस्तान

इससे पहले दोनों देशों के अधिकारियों के बीच पहली बैठक 14 मार्च को अटारी में हुई थी। पाकिस्तान सरकार की ओर से निर्माण कमेटी में अलगाववादियों को शामिल करने के विरोध में भारत ने 2 अप्रैल को पाकिस्तान वाघा में होने वाली बैठक में भाग लेने से इंकार कर दिया था। दोनों देशों के तकनीकी अधिकारियों की बैठक 16 अप्रैल को हुई थी।

करतारपुर कॉरिडोर निर्माण में बाधक बंकर ढहाया

बता दें कि श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर के निर्माण में जुटी निर्माण एजेंसियों ने डेरा बाबा नानक की दूसरी पंक्ति की डिफेंस लाइन धुस्सी बांध पर बने भारतीय बंकर को ढाह दिया है। यह बंकर डेरा बाबा नानक व पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब को जोड़ने के लिए भारत द्वारा बनाए जा रहे पुल के निर्माण में बाधा बन रहा था।

कर्मभूमि को धन्यवाद देने वाराणसी पहुंचे PM मोदी, लिया काशी विश्वनाथ का आशीर्वाद

बंकर को ढहाने से पहले निर्माण एजेंसियों ने सैन्य अधिकारियों के साथ बातचीत की। सैन्य अधिकारियों को बताया गया की भारत की ओर से रवि नदी के ऊपर बनाए जाने वाले 100 मीटर के पुल में यह बंकर बाधा है। अधिकारियों ने मौके का निरीक्षण कर बंकर को गिराने की अनुमति दे दी।

पाकिस्तान कॉरिडोर का चार किलोमीटर का रास्ता तैयार कर रहा

पाकिस्तान साइड की तरफ से करतारपुर कॉरिडोर का निर्माण कर रही फ्रेडरल इन्वेस्टीगेशन एजेंसीज (एफआईए ) ने पाकिस्तान सरकार से निर्माण कार्यों के लिए 28 करोड़ की राशि मांगी है। पाकिस्तान करतारपुर साहिब कॉरिडोर का चार किलोमीटर का रास्ता तैयार कर रहा है। आर्थिक संकट में जूझ रही पाकिस्तान सरकार की ओर से फंड जारी करने में की जा रही देरी से निर्माण कार्यों की गति धीमी पड़ी है।

 

=>
LIVE TV