बिना शराब के ही तांडव मजा रहे हैं ये जनाव, देखें तस्वीर

बरेली के प्रेमनगर थाना क्षेत्र की शिव शक्ति एस्टेट कॉलोनी में रिटायर्ड सीबीसीआईडी इंस्पेक्टर ने सरेशाम फायरिंग करके दहशत फैला दी। वह दरवाजे पर बच्चों के हुड़दंग से खफा थे। कॉलोनी वालों ने उनके हाथ से तमंचा छीना तो उन्होंने घर से पौनिया निकालकर फायरिंग की।

बरेली

देर रात पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने में टालमटोल कर रही है। सर्वधर्म सेवा समिति की अध्यक्ष आरती तिवारी का दस साल का बेटा अंश शुक्रवार शाम साढ़े सात बजे कॉलोनी में साइकिल चला रहा था।

आरती और उनके पति सुरजीत के मुताबिक रिटायर्ड इंस्पेक्टर केके मिश्रा ने अपने घर के सामने से निकलते वक्त साइकिल के पहिये में डंडा डाल दिया। अंश साइकिल के साथ गिर पड़ा। तब मिश्रा साइकिल पर डंडे मारने लगे।

जब दीपिका पादुकोण क्यूट अंदाज बोलाई पुलिस , तो पति रणवीर ने दिया यह तमगा

अंश भागकर घर पहुंचा और बड़े भाई आयुष को ले गया। आयुष ने मिश्रा से साइकिल तोड़ने की वजह पूछी तो उन्होंने उसे थप्पड़ जड़ दिया। वह रोता हुआ घर पहुंचा। इसके बाद अभिभावकों के साथ ही कॉलोनी के दूसरे लोग भी मौके पर आ गए।

आरोप है कि इससे भड़के केके मिश्रा ने उन्हें गालियां दीं और घर से तमंचा निकाल लाए। भीड़ ने तमंचा छीन लिया और उनकी पिटाई कर दी। इसके बाद वह अंदर जाकर पौनिया निकाल लाए और फायरिंग करने लगे।

दो फायर के बाद भगदड़ मच गई। सूचना पर इंस्पेक्टर बलवीर सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। भीड़ की उनसे नोकझोंक हुई। मिश्रा को गाड़ी से थाने लाया गया। देर रात तक रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी।

देश सेवा करने का सुनहरा मौका, इंडियन आर्मी में निकली हैं बंपर भर्तियां

भीड़ जानलेवा हमले की रिपोर्ट कराने पर अड़ी थी तो विभाग से जुड़े मामले में पुलिस लचीला रुख अपना रही थी। इंस्पेक्टर ने बताया कि तहरीर के मुताबिक रिपोर्ट लिख लेंगे। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

=>
LIVE TV