ट्राफिक को सुधारने के लिए पुलिस को बनाया जा रहा हाईटेक!

REPORT-LOKESH TRIPATHI

अमेठी – सरकार द्वारा वाहन तथा वाहन चालकों पर लगातार निगरानी रखे जाने के क्रम में अमेठी पुलिस को निरंतर हाईटेक बनाया जा रहा है। जिस पर ट्रैफिक पुलिस सहित लोकल पुलिस को भी इस बात की ट्रेनिंग दी जा रही है।

कि कैसे शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की तत्काल चेकिंग की जाए । उस पर कार्रवाई की जाए किसी बात को लेकर आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभागार में अमेठी तथा गौरीगंज सर्किल के समस्त पुलिस अधिकारियों के साथ यातायात पुलिस को ब्रेथ एनालाइजर की ट्रेनिंग दी गई। बताया गया कि कैसे इसका उपयोग करते हुए ड्रिंकिंग ड्राइविंग के मामले में चालान करना है।

आज हमारे द्वारा जैसा कि 15 दिन से यातायात अभियान चला रहे हैं। तो उसमें आज हम लोगों के द्वारा ब्रीथ एनालाइजर की ट्रेनिंग दी जा रही है । इसमें हम लोग फेसेज में ट्रेनिंग दे रहे हैं। तो आज हम लोग अमेठी और गौरीगंज सर्कल के सब इंस्पेक्टर तथा ट्रैफिक के जो हमारे कर्मचारी हैं। उन सबको हम लोग ट्रेनिंग करा रहे हैं। उनको बताया जा रहा है कि ब्रेथ एनालाइजर में जो डिवाइस है।

उसको किस तरह इस्तेमाल करना है ड्रंकन ड्राइविंग केस में ।जब आदमी शराब पीकर गाड़ी चलाता है तो एक्सीडेंट हो जाते हैं और अन्य दुर्घटनाएं हो जाती हैं। उसमें तमाम तरह की शिकायतें आती हैं कि एक पक्ष वह शराब के नशे में था अल्कोहल लिया हुआ था। उसमें यह बहुत कारगर साबित होता है। यह तुरंत पुलिस द्वारा किस तरह से चालान किया जा सकता है।

बाल बाल बचे डीएम! राहत सामग्री बांटते समय हुआ हादसा, देखें वीडियो

ड्रिंकिंग ड्राइविंग के तहत जिसमें हम लोग प्रशिक्षण दे रहे हैं यह बताया जा रहा है कि डिवाइस के साथ लगी पाइप है उसमें जो भी संबंधित व्यक्ति है। उसका टेस्ट होना है उसके द्वारा फूंका जाएगा और ऑनलाइन ऑटोमेटिकली इसके साथ एक डिवाइस अटैच होता है।उस डिवाइस पर उसके रीडिंग की रिसिप्ट जनरेट हो जाएगी। जिसे जनरेट करके हम चालान के साथ किस तरह लगाएं ?क्या-क्या उसमें पुलिस द्वारा डॉक्यूमेंटेशन किया जाएगा वह आज बताया गया है।

=>
LIVE TV