घर में घुसकर महिला के साथ दुराचार की शिकायत पर पुलिस ने की युवक पीटाई….

शाहगंज क्षेत्र के एक गांव में गत 13 अगस्त की रात घर में घुसकर महिला के साथ दुराचार की शिकायत करने गए उसके पति की कोतवाली में पुलिस द्वारा पिटाई किए जाने का वीडियो वायरल हो गया है। इसके बाद पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार के हस्तक्षेप पर मंगलवार को घटना के 12 दिन बाद मुकदमा दर्ज कर लिया गया। वहीं मामले का संज्ञान लेने के बाद बुधवार को पुलिस प्रशासन हरकत में आया और आनन फानन इस मामले में मुकदमा दर्ज करने के साथ ही आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई है। इस बाबत सोशल मीडिया पर जौनपुर पुलिस ने जानकारी साझा की है।

पोस्‍ट में पुलिस कर्मियों द्वारा जनता के साथ बेहतर आचरण करने की हिदायत दी गई है। पोस्‍ट में पुलिस अधीक्षक जौनपुर द्वारा युवक की पिटायी में शामिल दोनों उप निरीक्षकों ओर आरक्षी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनको निलंबित कर दिया गया है जबकि क्षेत्राधिकारी शाहगंज इस मामले की जांच करेंगे। वहीं वायरल वीडियो को लेकर क्षेत्र में पुलिसिया कार्रवाई को लेकर जन प्रतिनिधियों में भी रोष है। हालांकि पीडित ने पुलिस अधीक्षक की इस कार्रवाई पर संतोष जताया है।

पीडि़ता के पति के मुताबिक बीते 13 अगस्त की रात आरोपित युवक ने उसके घर में घुसकर उसकी पत्नी के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। पीडि़ता ने कोतवाली में सूचना दी। पुलिस आरोपित को पकड़कर लाई, लेकिन बाद में बिना कोई कार्रवाई किए छोड़ दिया। उसका आरोप है कि घटना की तहरीर लेकर जब वह कोतवाली गया तो आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की बजाय पुलिसकर्मियों ने तहरीर फाड़कर फेंक दी। उसकी कोतवाली में पिटाई की। तब उसने पुलिस अधीक्षक सहित अन्य अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को प्रार्थना पत्र भेजेकर पूरे प्रकरण की जानकारी दी। उधर, कोतवाली में पिटाई का वीडियो मंगलवार को सोशल मीडिया में वायरल हो गया। तब उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप पर मुकदमा दर्ज किया गया।

एसएसआइ, चौकी प्रभारी व सिपाही निलंबित

शाहगंज क्षेत्र के एक गांव में घर में घुसकर पत्नी के साथ दुष्कर्म के प्रयास की शिकायत करने गए कोतवाली गए युवक की पिटाई करने वाले पुलिसकर्मियों पर आखिरकार गाज गिर ही गई। एसपी अशोक कुमार ने आरोपित दो दारोगाओं व एक सिपाही को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर पूरे प्रकरण की जांच सीओ शाहगंज जितेंद्र कुमार दुबे को सौंप दी है। साथ ही जिले में तैनात सभी पुलिस कर्मियों को चेतावनी दी है कि शासन की मंशा के अनुरूप पीड़ितों से शालीनता से पेश आएं। निलंबित किए गए दारोगाओं में शाहगंज कोतवाली में तैनात एसएसआइ अनिल कुमार मिश्र, बीवीगंज पुलिस चौकी प्रभारी सुनील कुमार व सिपाही शेषनाथ विश्वकर्मा हैं।

=>
LIVE TV