आज गुरु पूर्णिमा के पावन दिन 149 साल बाद लगेगा चंद्र ग्रहण, इन चीजों से रहे सावधान

आज गुरु पूर्णिमा है साथ ही चंद्र ग्रहण का भी दिन है। चंद्र ग्रहण 16-17 जुलाई की रात को लगेगा। यह चंद्र ग्रहण आषाढ़ मास की पूर्णिमा के दिन होगा। 149 साल के बाद गुरु पूर्णिमा पर विशेष योग में यह चंद्र ग्रहण लग रहा है। इससे पहले 12 जुलाई 1870 को शनि, केतु और चंद्र के साथ धनु राशि में स्थित था।

चंद्र ग्रहण

सूर्य, राहु के साथ मिथुन राशि में स्थित था। इस बार भी इसी योग में चंद्र ग्रहण लगेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई देगा। ज्योतिष महर्षि पंडित प्रकाश जोशी के अनुसार मंगलवार देररात 1:32 बजे से ग्रहण शुरू होकर सुबह 4:30 बजे तक रहेगा।

शाम साढ़े चार बजे से सूतक
चंद्र ग्रहण प्रारंभ होने से नौ घंटे पहले सूतक शुरु होता है। 16 जुलाई की शाम 4:30 बजे से सूतक शुरू हो जाएगा और ग्रहण के साथ ही खत्म होगा। पंडित प्रकाश जोशी के अनुसार शुभ काम सूतक काल से पहले ही कर लेने चाहिए।

आज से बढ़ जाएंगे पेट्रोल और डीजल के रेट, कीमतों में होगा इतने रुपए का इजाफा

ग्रहण के दौरान क्या करें, क्या ना करें
1 – ग्रहण के समय मंत्रों का जप लगातार करना चाहिए
2 – ग्रहण के समय न तो खाना बनाना चाहिए और ना ही कुछ खाना चाहिए
3 – खाने – पीने की चीजों में तुलसी के पत्ते डाल कर रखना चाहिए।
4 – ग्रहण में घर के मंदिर के दरवाजे और परदे बंद कर देने चाहिए।
5 – ग्रहण के समय कोई भी शुभ व नया कार्य शुरू नहीं करना चाहिए।
6 – ग्रहण के दौरान वायुमंडल में बैक्टीरिया और संक्रमण का प्रकोप तेजी से बढ़ जाता है। ग्रहण के बाद पूरे घर में गंगाजल से छिड़काव करना चाहिए।

चंद्र ग्रहण पर महामंत्र- 
सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते !!

=>
LIVE TV