क्या मोदी जवाबदेही से ऊपर हैं? : कांग्रेस

नई दिल्ली| प्रधानमंत्री ने साढ़े चार साल में एक भी प्रेसवार्ता नहीं की, क्यों? इस सवाल पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जब सीधा जवाब देने के बजाय टाल-मटोल करने लगे तो कांग्रेस ने शुक्रवार को फिर सवाल किया, “क्या मोदी और शाह खुद को जवाबदेही से ऊपर मानते हैं?”

RANDEEP

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के उठाए इस सवाल पर कि मोदी ने अब तक एक भी प्रेसवार्ता क्यों नहीं की, भाजपा अध्यक्ष ने पहले तो इस सवाल को टालने की कोशिश की, उसके बाद कहा कि भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा इसका जवाब देंगे। यह वाकया भाजपा मुख्यालय में हुई प्रेसवार्ता का है।

जब पत्रकार ने इस बारे में जोर देकर पूछा तो, शाह ने कहा, “जवाब दिया जाएगा..जवाब पार्टी की ओर से दिया जाएगा, आप क्यों चिंता कर रहे हैं?”

इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शाह पर ‘भारतीय लोकतंत्र और प्रेस की स्वतंत्रता का अपमान करने’ का आरोप लगाया।

सुरजेवाला ने कहा, “क्या शाह को लगता है कि देश में लोकतंत्र मर चुका है और प्रधानमंत्री को कानून के शासन के लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता या सरकार की विफल नीतियों और भ्रष्टाचार के आरोपों पर सवाल नहीं किया जा सकता?”

कांग्रेस नेता ने कहा कि शाह का बयान मीडिया के सवाल पूछने के अधिकार का अपमान है और यह मोदी सरकार के ‘तानाशाही रवये’ को दिखाता है।

प्रभु ने कहा- स्टार्टअप्स कृषि उपज बढ़ाने की दिशा में कार्य करें

सुरजेवाला ने कहा, “क्या शाह सोचते हैं कि प्रधानमंत्री को मीडिया को संबोधित नहीं करने के बारे में पूछा जाना मानहानि है या खराब है? सत्ता का अहंकार इतना ज्यादा हो गया है कि वे अपने आपको लोकतंत्र, जवाबदेही और भारत के लागों के प्रति जवाबदेही से ऊपर समझने लगे हैं।”

=>
LIVE TV