लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए केंद्र सरकार ने शुरू की नई पहल

आयुष को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार हर जिले में आयुष अस्पताल और योग आरोग्य केंद्र खोलने पर जोर दे रही है। केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने इस साल में अब तक 261 योग आरोग्य केंद्रों को मंजूरी दी है। सबसे ज्यादा 50 योग आरोग्य केंद्र की सौगात उत्तर प्रदेश को मिली है। वहीं राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत उत्तर प्रदेश में 50 बिस्तरों वाले 16 अस्पताल को मंजूरी दी है।

केंद्र सरकार

आयुष मंत्रालय के अनुसार अगले दो वर्ष में देश के प्रत्येक जिले में आयुष अस्पताल दिखाई देगा। चूंकि स्वास्थ्य एक राज्य का विषय है, इसलिए केंद्र सभी राज्य सरकारों से इस पहल में सहयोग देने की अपील कर रह है। केंद्र से पूरी मदद मिलने का आश्वासन दिया जा रहा है। बताया जा रहा है कि वर्ष 2014 से लेकर अब तक देश भर के 75 जिलों में आयुष अस्पताल खोले जा चुके हैं। इन 50-50 बिस्तरों वाले अस्पताल में मरीजों को नेचुरापैथी से लेकर यूनानी, होमियोपैथी व सिद्घा चिकित्सा का लाभ भी मिल रहा है।

घर में शीशा लगाने से पहले जान लें ये अहम बातें, कहीं यही गलती पड़ ना जाए भारी

हरियाणा-हिमाचल से आईं मांग कम
बताया जा रहा है कि राज्यों के प्रस्ताव मिलने के बाद ही अस्पतालों को खोले जाने के लिए केंद्र से आर्थिक मदद दी जा रही है। ऐसे में हरियाणा और हिमाचल प्रदेश जैसे कुछ राज्यों से आयुष अस्पतालों को खोले जाने के प्रस्ताव कम मिले हैं। अभी तक चार वर्षों में सरकार इन दोनों राज्यों को मिलाकर तीन आयुष अस्पतालों को मंजूरी दे पाई है। इनमें से हरियाणा को एक ही अस्पताल की अनुमति मिली है। जबकि उत्तराखंड से काफी बेहतर परिणाम मिल रहा है। वहां इस साल 11 अस्पताल खोलने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

=>
LIVE TV