Friday , June 23 2017

सूर्योदय देखने के लिए उमड़ती है यहां लाखों की भीड़, आप भी लगाइए आस्था की डुबकी

कन्याकुमारीदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक कन्याकुमारी सिर्फ धर्म की दृष्टि से ही नहीं बल्कि सभी देशों के टूरिस्ट की फेवरेट जगहों में से एक है. यह देश के दक्षिण कोने में बसा हुआ है. इस जगह पर हर साल लाखों टूरिस्ट आते हैं.

तमिलनाडु में स्थित कन्याकुमारी पहले केप कोमोरन के नाम से जाना जाता था. बाद में इसका नाम देवी कन्या कुमारी के नाम पर रखा गया, जिन्हें भगवान कृष्ण की बहन माना गया है.

कन्याकुमारी में तीन समुद्रों-बंगाल की खाड़ी, अरब सागर और हिन्द महासागर का मिलन होता है. इसे त्रिवेणी संगम भी कहा जाता है.

कन्याकुमारी में बहुत सी देखने लायक जगह हैं. इन जगहों की खूबसूरती देखकर कोई भी दीवाना बन सकता है. एक बार जो यहां आया तो उसका वापस जाने का मन नहीं करेगा.

यहां पूरे साल गर्मी रहती है. बारिश में यहां का नजारा शानदार होता है. किसी भी मौसम में जाया जा सकता है.

कन्याकुमारी जाने के लिए ट्रेन से जा सकते हैं. इस जगह पहुंचने के लिए नजदीकी हवाईअड्डा त्रिवेंद्रम है. यह कन्याकुमारी से करीब 80 किमी दूर है.

कन्याकुमारी की खास जगह

सनराइज और सनसेट

पूरी दुनिया में कन्याकुमारी अपने सनराइज और सनसेट के लिए मशहूर है. हर सुबह होटल की छत पर टूरिस्ट की भीड़ सूरज को उगते हुए देखती है. शाम को अरब सागर में डूबते सूरज को देखना बहुत आनंदित करता है.

विवेकानंद स्मारक

यह समुद्र के बीच में स्थित है. यहीं पर स्वामी विवेकानंद ने ध्यान लगाया था. यहां उनकी विशाल मूर्ति है. विवेकानंद की मूर्ति के साथ तमिल के संत कवि तिरूवल्लुवर की 133 फीट ऊंची मूर्ति भी.

कुमारी अम्मन देवी मंदिर

इस मंदिर में देवी पार्वती के कन्या रूप की पूजा होती है. यह मंदिर 3000 साल पुराना है. इस सुंदर मंदिर को भगवान परशुराम ने स्थापित किया था.

महात्मा गांधी के अस्थि-अवशेषों को जिन कलशों में भरकर देश भर की पवित्र नदियों में प्रवाहित किया गया था, उनमें से एक कलश यहां पर रखा गया था.

 

 

LIVE TV