अगर आप भी खाते हैं काजू तो हो जाए सावधान नही तो…

शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा, जिसे ड्राय फ्रूट्स खाना पसंद न हो और ड्राय फ्रूट्स में भी सबसे ज्यादा काजू पसंद किया जाता है. काजू न सिर्फ स्वाद में अच्छा लगता है, बल्कि यह कई पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है. अक्सर स्वस्थ्य रहने के लिए काजू खाने की सलाह दी जाती है. काजू में फाइबर, प्रोटीन, आयरन और कई तरह के एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं. काजू कैंसर की बीमारी में फायदेमंद होता है. इसके सेवन से लो ब्लड प्रेशर की समस्या ठीक होती है और काजू खाने से डायबिटीज कंट्रोल रहती है.

myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार काजू खाने से दिमाग तेज होता है. इसमें मौजूद मैग्नीशियम तत्व मस्तिष्क में रक्त के संचार को बढ़ाता है. इन सब विशेष गुणों के बावजूद कुछ ऐसी शारीरिक समस्याएं भी होती हैं, जिनमें काजू का सेवन नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं किन लोगों के लिए काजू का सेवन हानिकारक हो सकता है.

मोटे लोग बिल्कुल न खाएं काजू

ज्यादा मोटे लोग या यह कहें कि जिनके शरीर में फैट ज्यादा है, उन्हें काजू का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए, क्योंकि काजू में वसा अत्यधिक होती है. शोध के मुताबिक 30 काजू में 163 कैलोरी होती है और 13.1 ग्राम फैट होता है. जिनका वजन पहले से ही बढ़ा हुआ है, उन्हें काजू खाने से परहेज करना चाहिए.

पेट से संबंधित परेशानी में नुकसानदायक
पेट से संबंधित बीमारी वाले मरीजों को भी काजू खाने से परहेज करना चाहिए. चूंकि काजू में वसा ज्यादा होती है, इसलिए आसानी से पच नहीं पाता है. काजू में फाइबर ज्यादा होता है, जिससे यह गैस की समस्या पैदा कर सकता है. काजू के अधिक सेवन से पेट में सूजन की समस्या भी हो सकती है. जिन लोगों को कब्ज, गैस, एसिडिटी या पाचन से संबंधित शिकायत रहती है, उन्हें तो काजू से बिल्कुल तौबा कर लेना चाहिए.

माइग्रेन के मरीज ना खाएं काजू
myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार माइग्रेन की परेशानी से जूझ रहे लोगों को भी काजू नहीं खाना चाहिए. काजू में काफी मात्रा में एसिड मौजूद होता है जो सिर दर्द को और अधिक बढ़ाता है.

गालब्लैडर में स्टोन हो तो संभल जाएं
जिन्हें गालब्लैडर में पथरी की समस्या है, उन्हें काजू खाने से बचना चाहिए. काजू में मौजूद ऑक्सलेट्स ऐसे मरीजों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. आमतौर पर माना जाता है कि गालब्लैडर में स्टोन की समस्या हाई कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों को ज्यादा होती है और काजू में भी अत्यधिक वसा होती है. ऐसे में काजू गालब्लैडर का दर्द बढ़ा सकता है.

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज करें परहेज
हाई ब्लड प्रेशर के मरीज को काजू नहीं खाना चाहिए. काजू में सोडियम काफी मात्रा में होता है, जो ब्लड प्रेशर को बढ़ता है. हाई बीपी के मरीजों को काजू का सेवन नियंत्रित रखना चाहिए.

ये है काजू खाने का सही तरीका
अगर काजू को ऑयल में फ्राइ करके खाते हैं तो यह तरीका गलत है. इससे काजू में मौजूद गुण नष्ट हो जाते हैं. काजू को फ्राइ करने के बजाए स्वादिष्ट बनाने के लिए इसे हल्का भून लेना चाहिए और थोड़ा सा नमक डाल सकते हैं.

=>
LIVE TV